भारत के ये टॉप 5 खिलाड़ी इतिहास रचने के लिए तैयार, शुभमन गिल जैसे नए खिलाड़ियो का नाम शामिल

भारत के ये टॉप 5 खिलाड़ी इतिहास रचने के लिए तैयार, शुभमन गिल जैसे नए खिलाड़ियो का नाम शामिल

भारतीय क्रिकेट कई दशकों से सफलता के शिखर पर है। पिछले लगभग 30 से 40 वर्षों में, भारतीय टीम ने विभिन्न चरणों में कई टॉप 5 खिलाड़ी से मुलाकात की, जिससे भारतीय टीम सफलता के शिखर पर पहुंच गई। 1980 तक सोचते हुए, सुनील गावस्कर और कपिल देव भारत के लिए रन बना रहे थे। 90 के दशक में, अजहरुद्दीन और सचिन तेंदुलकर ने भारत को प्रसिद्ध किया।

2001 से 2010 तक सौरव गांगुली, वीवीएस लक्ष्मण और राहुल द्रविड़ ने क्रिकेट की दुनिया में अपना नाम बनाया और 2011 से 2020 के बीच महेंद्र सिंह धोनी, विराट कोहली और रोहित शर्मा ने क्रिकेट की दुनिया में अपनी पहचान बनाई। भारतीय क्रिकेट प्रशंसकों को उम्मीद है कि आने वाले वर्षों में ऐसे ही महान भारतीय खिलाड़ी उभरेंगे। इस लेख में हम शीर्ष 5 भारतीय खिलाड़ियों पर नज़र डालेंगे जो 2021 से 2030 तक रनों का पहाड़ खड़ा कर सकते हैं।

1) पृथ्वी शॉ –
इसमें कोई शक नहीं है कि पृथ्वी शॉ, जिन्हें भारतीय क्रिकेट में दूसरे वीरेंद्र सहवाग के रूप में जाना जाता है, आने वाले वर्षों में एक बड़ा स्टार होगा। पृथ्वी का फॉर्म फिलहाल अच्छा नहीं है लेकिन क्रिकेट में उनके प्रदर्शन को लेकर कोई संदेह नहीं है। पृथ्वी ने अब तक 5 टेस्ट मैचों में 42 की औसत से 1 शतक और 2 अर्द्धशतक बनाए हैं। पृथ्वी पिछले कई सालों से प्रथम श्रेणी मैचों में रनों की बारिश कर रहे हैं, और सभी भारतीय क्रिकेट प्रशंसकों को उम्मीद होगी कि वह आने वाले दशक में भी भारतीय टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करते रहेंगे।

2) मयंक अग्रवाल –
पृथ्वी की तरह, मयंक इस समय खराब फॉर्म में है। लेकिन उनकी क्रिकेटिंग क्षमता को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। मयंक हाल ही में भारतीय क्रिकेट के इतिहास में 1000 रन बनाने वाले तीसरे सबसे तेज खिलाड़ी बन गए हैं। मयंक ने अब तक 13 टेस्ट मैचों में 47 की औसत से 1005 रन बनाए हैं। इस बीच, मयंक ने 3 शतक और 4 अर्द्धशतक बनाए। भारतीय टीम भविष्य में भी मयंक से यही उम्मीद कर सकती है।

3) इशान किशन –
झारखंड के सितारे को अभी तक भारतीय टीम में नहीं दिखाया गया है, लेकिन ईशान ने प्रथम श्रेणी मैचों में और आईपीएल में पूरे क्रिकेट जगत में अपनी बल्लेबाजी का प्रदर्शन किया है। 2014 में अपने घरेलू क्रिकेट करियर की शुरुआत करने वाले ईशान ने अब तक 44 प्रथम श्रेणी, 72 लिस्ट-ए और 90 टी 20 मैच खेले हैं। ईशान ने प्रथम श्रेणी में 2665, लिस्ट-ए में 2334 और टी -20 में 2230 रन बनाए हैं। उम्मीद है कि ईशान अंतरराष्ट्रीय मैचों में भी यही कारनामा दोहराएगा।

4) यशवी जायसवाल –
U-19 क्रिकेट में भारत की स्टार सफलता ने सभी को अपने क्रिकेट कौशल से प्रभावित किया है। 13 लिस्ट-ए मैचों में सफलतापूर्वक उन्होंने 70 के अविश्वसनीय औसत से 779 रन बनाए हैं। उन्होंने 3 शतक और 3 अर्द्धशतक भी बनाए हैं। सफलता को देखते हुए, निश्चित रूप से भविष्य के स्टार खिलाड़ी की झलक देख सकते हैं। उम्मीद है कि सफलता भी सभी की उम्मीदों पर खरा उतरेगी और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी पहचान बनाएगी।

5) शुभमन गिल –
पंजाब के लिए खेलने वाले शुभमन गिल ने स्थानीय क्रिकेट में अपना नाम बनाया है। शुभम ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 69 की औसत से 24 मैचों में 2350 रन बनाए हैं। शुभमन ने 7 शतक और 11 अर्द्धशतक भी बनाए हैं। शुभमन को हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में पदार्पण करने का मौका मिला और उन्होंने स्पष्ट किया कि वह दोनों पारियों में अच्छा प्रदर्शन करके भविष्य के सितारे हैं।

2021 में धूम मचा देगी बॉलीवुड की ये फिल्में, नंबर 2 देगी हॉलीवुड फिल्मों को टक्कर

आस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न मे भारत ने की जीत दर्ज, टीम मे ये 5 खास बदलाव आए काम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *