MeToo केस में तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर पर लगाए थे गंभीर आरोप, गलत निकली सारी बात बताया दुर्भावनापूर्ण

MeToo केस में तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर पर लगाए थे गंभीर आरोप, गलत निकली सारी बात बताया दुर्भावनापूर्ण

तनुश्री दत्ता ने आरोप लगाया था कि 2008 में फिल्म के सेट पर अभिनेता नाना पाटेकर द्वारा उनका यौन उत्पीड़न किया गया था और उन्हें मुंबई पुलिस से भी सारांश दिया गया था। मुंबई पुलिस ने नाना पाटेकर के खिलाफ उनके MeToo मामले को दुर्भावनापूर्ण रूप से झूठा करार दिया है। 

नाना पाटेकर को राहत मिलनी चाहिए क्योंकि मुंबई की निचली अदालत ने कहा है कि उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला है और इसलिए, उन्होंने तनुश्री के सभी आरोपों को खारिज कर दिया है। पुलिस के अनुसार, उन्होंने अब तक 12 से 15 गवाहों के बयान दर्ज किए हैं, जिसमें अभिनेत्री डेज़ी शाह भी शामिल हैं। जो उस समय तक कोरियोग्राफर गणेश आचार्य की सहायक थीं। गवाह मुख्य रूप से बैकस्टेज डांसर और अन्य कार्यकर्ता हैं जो गीत की शूटिंग के दौरान सेट पर मौजूद थे। पुलिस सूत्रों ने पहले भी कहा था कि उनके बयानों में से किसी ने तनुश्री के बयान और नाना के खिलाफ उनके द्वारा किए गए यौन उत्पीड़न के आरोपों को खारिज नहीं किया है। डेज़ी ने पिछले साल नवंबर में अपना बयान दर्ज किया था, और सूत्रों के अनुसार, उसने पुलिस को बताया कि वह इस घटना को याद नहीं कर पा रही थी।

तनावरहित लोगों के लिए, तनुश्री ने पिछले साल मी टू आंदोलन शुरू किया था और नाना पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे। अभिनेत्री ने बॉलीवुड में एक लहर चलाई थी और इस घटना पर चर्चा करने के लिए कई प्रेस कॉन्फ्रेंस और मीडिया इंटरैक्शन भी चलाये थे। तनुश्री ने तब मुंबई के ओशिवारा पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज की थी, लेकिन पुलिस ने उन पर लगे आरोपों से संतुष्ट नहीं हुई। इसके साथ ही मुंबई पुलिस ने तनुश्री की सभी आरोप को बेबुनियाद बताया है।

इसके साथ ही हम आपकी जानकारी के लिए बता दे कि तनुश्री दत्ता के इस आरोप के बाद नाना पाटेकर को कई बड़ी समस्याओ का सामना करना पड़ा था। वहीं तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर की छवि को धूमिल करने का काम भी किया है। जिसकी वजह से नाना पाटेकर को कई फिल्मों काम करना मुश्किल हो गया था। वहीं नाना पाटेकर ने कई फिल्मों से आधी अधूरी शूटिंग छोड़ दी थी।

सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड: महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा राज्य सुप्रीम कोर्ट करेगा फैसला

सुशांत सिंह राजपूत को राष्ट्रीय पुरस्कार से किया जाएगा सम्मानित, जानें पूरी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *