क्या होता है बसंत पंचमी का त्यौहार, जाने किन देवी देवताओं की होती है पूजा

Basant Panchami 2021:
बसंत पंचमी

क्या होता है बसंत पंचमी का त्यौहार, जाने

नमस्कार, क्या होता है बसंत पंचमी का त्यौहार, जाने किन किन देवताओं की होती है पूजा. इस खबर को हम आपको विस्तार से बताने वाले हैं. ऐसा माना जाता है इस दिन ब्रह्मा जी ने मां सरस्वती जी की रचना की थी. आइए जानते हैं सरस्वती जी के अलावा होती है और किन किन देवी-देवताओं की पूजा.

बसंत पंचमी

आपकी जानकारी के लिए बता दें की बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती जी के अलावा और भी देवी और देवताओं की पूजा की जाती है. यह त्योहार भारतवर्ष में 29 जनवरी को मनाया जा रहा हैं. सरस्वती जी की पूजा के लिए सुबह के 10:45am से दोपहर के 12:34pm तक का शुभ मुहूर्त बना रहेगा है.

बसंत पंचमी

रति और कामदेव

बसंत पंचमी

बता दे कि बसंत पंचमीके दिन सरस्वती जी के अलावा ‘रति और कामदेव’ की भी पूजा की जाती है. भगवान कामदेव और उनकी पत्नी रति को प्रेम और यौन संबंध के देवी और देवताओं के रूप में जाना जाता है. ऐसा माना जाता है, कि यह बसंत ऋतु में मनुष्य ही नहीं बल्कि पूरे संसार के पेड़-पौधे जीव-जंतु आदि में यौन भावनाओं को उत्पन्न करते हैं.

राधा और कृष्ण

बसंत पंचमी

बसंत पंचमी के ही दिन राधा और कृष्ण की भी पूजा की जाती है. राधा और कृष्ण को प्रेम का प्रतीक माना जाता है. इन दोनों की प्रेम कहानी इतनी प्रसिद्ध है कि कृष्ण से पहले राधा का नाम हर मनुष्य की जिव्हा पर आता है. द्वापर युग में बसंत पंचमी के दिन ही राधा और कृष्ण प्रेम के देवी देवताओं के रूप में प्रकट हुए थे.

विष्णु भगवान

बसंत पंचमी

बसंत पंचमी के दिन भगवान विष्णु की उपासना करना भी शुभ माना जाता है. वेदों के अनुसार भगवान विष्णु की उपासना करने के लिए सुबह के समय शरीर पर तेल लगाने के पश्चात नहाना चाहिए. उसके पश्चात सभी को पीले वस्त्र धारण करके भगवान विष्णु को श्रृंगार कर उन्हें पीले वस्त्र पहनाकर विधि विधान से उनकी उपासना करनी चाहिए. तत्पश्चात पीले फल और मिष्ठान का प्रसाद वितरित करना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *