बदला लेगा भारत: इन 4 कारण की वजह से दूसरे बॉक्सिंग डे टेस्ट मे जीतेगी टीम इंडिया

India vs Australia 3rd Test prediction: आखिर कौन सी टीम जीतेगी तीसरा महामुकाबला, क्या भारत ले जाएगा यह सीरीज

टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 8 विकेट से हरा दिया। टीम इंडिया की हार के बाद, क्रिकेटर्स 26 दिसंबर से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट की प्रतीक्षा कर रहे हैं। मैच से पहले भारत को दो बड़े झटके लगे हैं, नियमित कप्तान विराट कोहली गार्ड की छुट्टी पर भारत लौट रहे हैं, जबकि भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को हाथ में चोट के कारण पूरी श्रृंखला से बाहर रखा गया है। इसलिए यह देखना दिलचस्प होगा कि भारतीय टीम दूसरे टेस्ट में कैसे मैदान पर उतरती है। इस पोस्ट में हम चार कारण देखेंगे कि भारतीय टीम दूसरा टेस्ट जीत सकती है।

1) मेलबर्न की पिच –

मेलबर्न की पिच आमतौर पर बल्लेबाज के अनुकूल है। भारतीय बल्लेबाजों के लिए इस बल्लेबाजी के अनुकूल पिच पर गोल करना इतना मुश्किल नहीं होगा। पिछले पांच वर्षों में यहां खेले गए लगभग हर मैच में बल्लेबाजी करने वाली टीम ने 500 रन बनाए हैं। ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज भी इस पिच को लेकर असंतुष्ट दिख रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने मैच के आगे कहा, “मुझे उम्मीद है कि इस बार मेलबर्न में पिच गेंदबाजों के लिए अनुकूल है।”

2) पुजारा का शतक-

भारत का 2018-19 दौरे का तीसरा टेस्ट मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में खेला गया था। इस मैच में भारत ने चेतेश्वर पुजारा के दमदार प्रदर्शन के दम पर जीत हासिल की थी। पुजारा ने पहली पारी में शानदार 106 रन बनाए थे। पुजारा के प्रदर्शन ने भारत को 137 रनों से मैच जीतने में मदद की। इस बार भी कप्तान अजिंक्य रहाणे पुजारा से इसी तरह के प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे।

3) मयंक का बेहतर प्रदर्शन

मयंक अग्रवाल ने मेलबर्न में 2018 मैच में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया। उन्होंने अपनी पहली पारी में शानदार 76 रन बनाए थे। दूसरी पारी में भी, मयंक ने अपनी निरंतरता बनाए रखी और 42 रन बनाए। बेशक, आगामी टेस्ट मैच से पहले मयंक का आत्मविश्वास दोगुना हो गया है।

4) टॉस जीतने के लिए महत्वपूर्ण –

भारत ने अब तक मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में अपने तीन मैच जीते हैं। तीनों ही मामलों में भारत ने पहले बल्लेबाजी की है। अगर आप मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड के इतिहास को देखें, तो पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम के जीतने की संभावना अधिक होती है। ऐसे में अगर भारतीय कप्तान अजिंक्य रहाणे टॉस जीतते हैं तो उन्हें पहले बल्लेबाजी करनी चाहिए। ताकि भारत की जीत की उम्मीदों को और बढ़ाया जा सके।

‘कैप्टन कूल’ एमएस धोनी की ज़िंदगी से जुड़ी ये खास बाते नहीं जानते होंगे आप, ऐसे सीखा था हेलीकॉप्टर शॉट

भारत के शहरों में देखा जाएगा T20 2021 का रोमांच, BCCI ने चुने ये 8 शहर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *