Hariyali Teej 2020: हरियाली तीज मनाने से पहले जान लें इसकी परंपरा, सुहागन महिलाओं के लिए होती है खास

Teej Kab Ki Hai 2020: जाने हरयाली तीज का समय व शुभ मूहूर्त

Hariyali Teej 2020: हिंदू धर्म ग्रंथ शिव पुराण के अनुसार हरियाली तीज के दिन देवी पार्वती और भगवान शिव का पुनर्मिलन हुआ था. जिसकी वजह से हरियाली तीज मनाई जाती है. हिंदू मान्यताओं के अनुसार हरियाली तीज का व्रत व पूजन करने से वैवाहिक सुख और विवाह न होने जैसी समस्याएं दूर हो जाती है. हरियाली तीज के दिन महादेव संग मां पार्वती की पूजा करने से विशेष प्रकार की कृपा मिलती है. 

हरियाली तीज की परंपरा

  • हरियाली तीज के दिन में मेहंदी लगाने का विशेष महत्व होता है. जिसे पैरों के नीचे वाले हिस्से पर भी लगाया जाता है. इसे महिलाओं की सुहाग की निशानी कहा जाता है. 
  • नई नई शादी करने वाली लड़कियों के लिए इस त्यौहार का महत्व विशेष होता है. ज्यादातर देश के हिस्सों में इस दिन लड़कियों को ससुराल से मायके बुलाया जाता है. 
  • इस दिन लड़कियां अच्छे वर की मनोकामनाएं के लिए व्रत रखती है. इससे उन्हें मनोकामना अवश्य पूरी होती है. 
  • इस दिन शादीशुदा स्त्रियाँ सास के पांव छूकर उन्हें सुहागी देती है. 
  • इस दिन स्त्रियां श्रृंगार कर वे नए वस्त्र पहनकर माता पार्वती की पूजा अर्चना सच्चे मन से करती है. 

इस दिन भगवान शिव शंकर और माता पार्वती का पुनर्मिलन हुआ था. जिसकी वजह से भगवान शिव शंकर के साथ माता पार्वती की पूजा की जाती है .इसके साथ ही इस दिन सभी पर भगवान शिव शंकर माता पार्वती का आशीर्वाद रहता है. जिससे भक्तों की सारी मनोकामनाएं पूरी होती है.

उत्तर प्रदेश के शहर में संपूर्ण लॉकडाउन का फैसला लिया गया, जाने… 

OMG; पिछले 24 घंटे में देश में 40,425 केस सामने आए कुल साढ़े 11 लाख के पर…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *