पूर्व विकेटकीपर किरण मोरे का दावा “धोनी को वनडे मैच के लिए टीम मे चुना गया”

धोनी के क्रिकेट की दुनिया मे 16 साल पूरे, कैरियर के पहले दिन व आखिरी दिन घाटी एक ही घटना

भारत के पूर्व कप्तान एमएस धोनी को पहली बार 2004 में भारतीय टीम में मौका मिला। उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ अपना डेब्यू मैच खेला था। लेकिन भारतीय टीम में उनका चयन आसान नहीं था। कुछ दिन पहले ही पूर्व विकेटकीपर किरण मोरे ने उन परिस्थितियों का खुलासा किया था जिसके तहत धोनी को भारतीय टीम के लिए चुना गया था।

भारतीय टीम में शामिल होने के बाद, धोनी भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयों पर ले गए। उन्होंने तीन आईसीसी कप भी जीते। इनमें 2007 T20 विश्व कप, 2011 ODI विश्व कप और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी शामिल हैं। उनके नेतृत्व में, भारतीय टीम आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में सबसे ऊपर रही।

2004 में चयन समिति के प्रमुख किरण मोरे ने स्थिति का खुलासा किया। जब धोनी को बांग्लादेश के खिलाफ खेलने के लिए भारतीय टीम में चुना गया था। यह वह समय था जब भारतीय टीम लगातार विकेटकीपर बदल रही थी। राहुल द्रविड़ वनडे में भारतीय टीम के विकेटकीपर थे और वह अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे। उन्होंने 73 एकदिवसीय मैचों में 71 कैच और 13 स्टंप किए थे।

हालांकि, चयन समिति ने महसूस किया कि राहुल द्रविड़ पर हावी थे और उन्हें बल्लेबाजी पर ध्यान देना चाहिए। बेशक, पार्थिव पटेल और दिनेश कार्तिक करीब थे। हालांकि, चयन समिति ऐसा खिलाड़ी चाहती थी जो गेंद को अच्छी तरह से हिट कर सके और विकेट के पीछे भी जिम्मेदारी ले सके।

किरण मोरे ने भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच डब्ल्यूवी रमन के पोडकास्ट इनसाइड आउट में कहा, “राहुल द्रविड़ ने 75 एकदिवसीय मैचों में यह भूमिका निभाई। हम राहुल को आराम देना चाहते थे। इस बीच, भारतीय ए टीम के लिए धोनी अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे। ”

किरण मोरे ने कहा, “केन्या में खेलते हुए धोनी ने अलग महसूस किया, जिस तरह से वह टीम का नेतृत्व कर रहे थे। धोनी ने उस दौरे पर 600 रन बनाए। हमारे पास शुरू से ही युवराज सिंह जैसे खिलाड़ी थे। धोनी आए, वह एक पूर्ण पैकेज थे, और उन्होंने भारतीय टीम में तूफान पैदा कर दिया।

कभी शाहरुख खान ने किए थे क्रिकेट के ये 5 एड, जिन्होनें पूरी दुनिया मे मचा दी थी धूम

18 साल के युवा खिलाड़ी ने महज 42 गेंदों पर जड़ा शतक, नहीं रुकी रन की बारिश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *