हाथी के गोबर की बनती है पीने की पसंदीदा चीज, लोग करते हैं बड़े चाव से सेवन जाने

हाथी के गोबर की बनती है पीने की पसंदीदा चीज, लोग करते हैं बड़े चाव से सेवन जाने

आज के समय में जो चीजें खाने में जितनी स्वादिष्ट लगती है वह बनती हुई देखने में उतनी ही ज्यादा बुरी लगती है। ठीक वैसा ही हाल ब्लैक आइवेरी प्लांट कॉफी का है। यह कॉफी भारत मैं ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में खूब पसंद की जाती है। जितनी ज्यादा इसकी क्वालिटी होती है उतनी ही ज्यादा इसके दाम मिलते हैं। जिसकी वजह से यह कॉफी दुनिया की सबसे महंगी कॉफी में गिनी जाती है। लेकिन यह कॉफी जानवरों के गोबर की बनती है तो आइए जानते हैं इसके बारे में।

हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह कॉफी वैसे तो नॉर्थ थाईलैंड में बनाई जाती है। जिसे ब्लैक आइवरी ब्लेंड कॉफी के नाम से जाना जाता है। इस कॉफी को बनाने के लिए हाथी के गोबर का इस्तेमाल किया जाता है। वही इसका दाम $1100 लगभग ₹70000 प्रति किलो होता है। वैसे तो इस कॉफी बनाने की प्रतिक्रिया बहुत ज्यादा जटिल है जिसकी वजह से इसे इतना महंगा बेचा जाता है। 

इस कॉफी को बनाने के लिए कहीं लंबे प्रोसेस से गुजारा जाता है। जिसकी वजह से यह कॉफी इतनी ज्यादा महंगी होती है। इस कॉफी को बनाने के लिए हाथी को कॉफी के कच्चे फलों का सेवन कराया जाता है। जिसके बाद हाथी इसके फल पचाने के बाद गोबर के रूप में इसके बीच त्यागते हैं। इसके बाद इनके गोबर को फिल्टर करके यह बीज निकाल ले जाते हैं। जिसके बाद इन्हें सुखाकर बहुत ही बारीकी से पीसा जाता है। इसके बाद आप की दुनिया की सबसे मशहूर काली आईवेरी कॉफी तैयार की जाती है। 

Solar Eclipse in December 2020: जाने सूर्य ग्रहण का सही समय व दिन

Solar Eclipse 2020: इस दिन दिखाई देगा सूर्य ग्रहण, जाने क्या करे व क्या न करे?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *