Chandra Grahan 2020 Date & Time: चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं अपनाएं ये सावधानियां, अन्य लोगों को भी करना चाहिए ये उपाय

Chandra Grahan 2020 Date & Time: चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं अपनाएं ये सावधानियां, अन्य लोगों को भी करना चाहिए ये उपाय

Chandra Grahan 2020 Date & Time: इस साल 5 जुलाई के दिन साल 2020 में चौथा ग्रहण लग रहा है. इसके साथ ही इस साल लगने वाला यह चंद्र ग्रहण तीसरा और आखिरी चंद्र ग्रहण होगा. जो गुरु पूर्णिमा(Guru Purnima 2020) के दिन सुबह 8:54 पर शुरू होगा और 11:30 पर खत्म हो जाएगा. इस चंद्रग्रहण(Chandra Grahan 2020) की समय अवधि कुल 2 घंटे 43 मिनट 44 सेकंड रहेगी. यह चंद्र ग्रहण दिन में लगने की वजह से भारत में दिखाई नहीं देगा. जिसकी वजह से इस ग्रहण में सूतक काल भी मान्य नहीं होगा. लेकिन इसी दौरान गर्भवती महिलाओं को थोड़ा संभल कर रहना चाहिए. तो आइए जानते हैं इसके बारे में. 

Chandra Grahan 2020 Date & Time: चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं अपनाएं ये सावधानियां, अन्य लोगों को भी करना चाहिए ये उपाय
Image Courtesy- Third Party Image

यह चंद्र ग्रहण(Chandra Grahan 2020) भारत में नहीं दिखाई देगा इसकी वजह से ही इस ग्रहण के सूतक काल का कोई असर भी नहीं पड़ेगा. यह अन्य चंद्रग्रहण के अपेक्षा सामान्य ग्रहण होगा. अगर पूर्णिमा की रात के दिन चांद साफ नजर आता है तो आप इस की रोशनी में खाना भी खा सकते हैं. इसके साथ ही इसका असर किसी पर भी नहीं पड़ेगा. लेकिन फिर भी गर्भवती महिलाओं को ऐसे में बाहर नहीं निकलना चाहिए. 

शुभ नहीं होते हैं 1 महीने में इतने ग्रहण

इस साल 5 जून से लेकर 5 जुलाई के बीच तीसरा चन्द्र ग्रहण(Chandra Grahan 2020) लग रहा है. ज्योतिषी शास्त्र के अनुसार 1 महीने के समय के बीच इस ग्रहण का लगना बेहद शुभ माना जाता है. अगर ऐसा होता है तो प्राकृतिक आपदाओं का कड़ा सामना करना पड़ता है. 

चंद्र ग्रहण के दौरान बरतें ये सावधानियां

  1. चंद्र ग्रहण लगने से पहले ही सूतक काल शुरू हो जाता है. जिसकी वजह से सूतक काल में कुछ भी खाना नहीं चाहिए. 
  2. इस दौरान गर्भवती महिलाओं को सात्विक भोजन खाने की सलाह दी जाती है. 
  3. जिस दिन चंद्र ग्रहण लगने वाला हो उस दिन पानी या चाय को पीते समय उसमें तुलसी के पत्ते डालकर उबाल लेने चाहिए. जिसके बाद उसका सेवन करना चाहिए. 
  4. गर्भवती महिलाओं को इस दिन सूर्य की रोशनी में भी आने से बचना चाहिए. यह समय जब तक रहता है जब तक चंद्र ग्रहण लगा रहता है. 
  5. सूतक काल शुरू होने के बाद बिल्कुल भी खाना नहीं खाना चाहिए. अगर आप ऐसा करते हैं तो इससे आपके शरीर पर गहरा प्रभाव पड़ सकता है. 
  6. सूतक काल शुरू होने के बाद खाना बनाने से भी बचना चाहिए. भारत में कुछ लोग चंद्र ग्रहण के दौरान उपवास भी रखते हैं लेकिन उन व्यक्तियों को बिल्कुल उपवास नहीं रखना चाहिए जो बीमार है. 

गुरु पुर्णिमा: जिनका नहीं है कोई गुरु वह कैसे मनाएं गुरु पूर्णिमा, जाने

Guru Purnima: क्यों मनाई जाती है गुरु पूर्णिमा, जाने संपूर्ण जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *