ब्रिस्बेन टेस्ट: भारत की ऐतिहासिक जीत के साथ कंगारुओं का तीन दशक का सपना हुआ चूर, जाने

ब्रिस्बेन टेस्ट: भारत की ऐतिहासिक जीत के साथ कंगारुओं का तीन दशक का सपना हुआ चूर, जाने

ब्रिस्बेन टेस्ट: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी श्रृंखला का चौथा और अंतिम टेस्ट हाल ही में ब्रिस्बेन के गाबा स्टेडियम में खेला गया था। इस मैच में, भारतीय खिलाड़ियों ने कड़ी टक्कर दी और मेजबान ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हराया। इसके साथ ही भारत ने टेस्ट सीरीज को 2-1 के अंतर से जीत लिया है। इसी समय, एक नया इतिहास बनाया गया है।

भारत द्वारा बनाया गया इतिहास – 

इस निर्णायक मैच को जीतकर, भारत ने ब्रिसबेन टेस्ट में पिछले तीन दशकों में ऑस्ट्रेलिया के नाबाद रन को तोड़ा है। ऑस्ट्रेलिया 1988 से ब्रिस्बेन में एक टेस्ट मैच नहीं हारा है। 1988 में, अब तक ऑस्ट्रेलिया ने ब्रिस्बेन में खेले गए 31 मैचों में से 24 जीते हैं और सात ड्रा किए हैं। भारत के खिलाफ हालिया चौथा टेस्ट ब्रिस्बेन में ऑस्ट्रेलिया का 32 वां था।

ग्राउंड पर ऑस्ट्रेलिया की आखिरी हार 1988 में वेस्टइंडीज के खिलाफ थी। उस समय वेस्टइंडीज ने ऑस्ट्रेलिया को 9 विकेट से हराया था।

अब तक, ऑस्ट्रेलिया ने ब्रिस्बेन में 63 टेस्ट खेले हैं। उन्होंने उनमें से 40 मैच जीते हैं। उसने 8 मैच गंवाए थे। ये सभी आठ मैच 1988 से पहले के हैं। इसके अलावा, ब्रिस्बेन में 1 मैच ड्रॉ में समाप्त हुआ है, जबकि 13 मैच ड्रॉ हुए हैं।

भारत ने पहले कभी ब्रिस्बेन टेस्ट नहीं जीता है –

भारत और ऑस्ट्रेलिया ने ब्रिस्बेन में अब तक छह टेस्ट खेले हैं। मैचों में से एक ड्रॉ था, जबकि पांच मैच ऑस्ट्रेलिया ने जीते थे। दोनों टीमों के बीच हालिया मैच इस मैदान पर 7 वां मैच था। भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर पहली बार ब्रिस्बेन में मैच जीता है।

ब्रिस्बेन टेस्ट मैच के आँकड़े –

ऑस्ट्रेलिया ने ब्रिस्बेन टेस्ट में पहले बल्लेबाजी की और भारत के खिलाफ 370 रनों का जबरदस्त प्रदर्शन किया। मारनस लाबुशाने का (108) बल्लेबाजी शतक इसका बड़ा हिस्सा था। जवाब में, भारत ने निचले क्रम के बल्लेबाज वाशिंगटन सुंदर (62) और शार्दुल ठाकुर (67) के बीच शतकीय साझेदारी की बदौलत पहली पारी में 336 रन बनाए। जिससे ऑस्ट्रेलिया को 34 रनों की मामूली बढ़त मिली।

दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया ने 294 रन जोड़कर अपनी बढ़त 34 रनों तक पहुंचा दी। इसलिए भारत के सामने जीत के लिए 328 रनों का लक्ष्य था। युवा भारतीय बल्लेबाज शुभमन गिल (91) और विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत (89) ने भारत को लक्ष्य तक पहुंचाने में मदद की। भारत ने दूसरी पारी में 7 विकेट पर 329 रन बनाए और 3 विकेट से सीरीज जीत ली।

IND vs AUS Test Live: शार्दुल ठाकुर 67 रन पर आउट,भारत ने 104 ओवर में 7 विकेट पर बनाए 315 रन

गेंदबाजी के बाद बल्लेबाजी में शार्दुल की बारी! इरफान-अश्विन के रिकॉर्ड में की बराबरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *