59 चाइनीज ऐप बैन करने के बाद अब सरकार ने की और 47 चाइनीज ऐप बैन, PUBG भी खतरे में

59 चाइनीज ऐप बैन करने के बाद अब सरकार ने की और 47 ऐप बैन, PUBG भी खतरे में

भारत ने चीन के साथ लिंक के साथ भारत सरकार ने 47 चाइनीज ऐप बैन कर दी है। ये एप्लिकेशन उन ही कंपनियो के थे जिन्हे पिछले महीने भारत सरकार ने भारत मे बैन किया था।

एएनआई के मुताबिक, इन प्रतिबंधित कॉपी(क्लोन) एप्लिकेशन में टिकटोक लाइट, हेलो लाइट, शेयरइट लाइट, बिगो लाइव लाइट और वीएफएक्स लाइट शामिल हैं। प्रतिबंधित आवेदनों की पूरी सूची जल्द ही जारी की जाएगी। पीटीआई ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि इसका आदेश शुक्रवार को जारी किया गया था।

एक इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, 275 चीन से जुड़े ऐप रडार पर हैं। सूची में लोकप्रिय खेल PUBG भी शामिल था। रिपोर्ट में कहा गया है कि सूची में अन्य ऐप शाओमी द्वारा Xiaomi, AliExpress, और बाइटडेंस से रेस्सो हैं जैसी बड़ी एप्स शामिल है। 

पिछले महीने सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा के आधार पर चीन से जुड़े 59 एप्लिकेशन पर बैन लगा दिया था। सरकार ने कहा था कि ये ऐप “देश के लिए खतरा” में शामिल थे। क्योंकि ये ऐप “उन गतिविधियों में लगे हुए हैं जो भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा, और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए पूर्वाग्रही हैं।”

पिछले महीने भारत सरकार ने टिकटोक, शेयरिट, क्वाई, यूसी ब्राउज़र, Baidu मानचित्र, बिगो लाइव और विगो वीडियो जैसी कई बड़ी कुल 59 एप्स पर बैन लगाया था। इसके साथ ही इन सभी ऐप्स के क्लोन(लाइट) वर्जन पहले से ही प्लेस्टोर पर मौजूद थे। ये सभी एप्स सर्च करने पर आसानी नहीं मिलते थे। ये सभी एप्स गूगल प्लेस्टोर मे नीचे की साइड होते थे जिसकी वजह से सरकार का ध्यान इन पर काफी ज्यादा देरी से गया जिसके बाद इन सभी एप्स को बैन किया गया है।

चाइनीज़ एप्स के बैन होने के बाद, चिंगारी, मित्रों, रोपोसो और ट्रेल जैसी मेड इन इंडिया एप्स पहले के मुक़ाबले खूब पसंद व डाऊनलोड की जा रही है।

भारतीय कंपनियां प्रतिबंध का स्वागत करती हैं

चिंगारी के सीईओ और सह-संस्थापक सुमित घोष ने एक बयान में कहा “यह भारत सरकार और मोदी जी की बहुत अच्छी चाल है। जैसा कि हमने पहले कहा है, हम, भारतीय नागरिकों को हमारे डेटा से बहुत चिंतित होना चाहिए, और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि यह भारत के भीतर बना रहे। चिंगारी में हम हमेशा से ही शीर्ष पर रहे हैं। इसलिए हमने चीन के किसी भी फंड को कभी भी लेने का फैसला नहीं किया और न ही अपने ऐप में उनकी किसी भी तकनीक का इस्तेमाल किया।”

Contra Returns Mobile Game जल्द होगा ग्लोबल लांच, PUBG गेम से से होगी टक्कर

अगस्त के महीने में होने वाली है जनता को यह तकलीफ जाने पूरी खबर…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *