ये 3 खिलाडी 1 बार फिर बना सकते है अपनी टीम को विजेता…

इंडियन प्रीमियर लीग के शुरुआती संस्करणों में खराब दाैर का सामना करने के बाद कोलकाता नाइट राइडर्स ने 2012 में अपना पहला आईपीएल खिताब जीता था उस दाैरान गौतम गंभीर की अगुवाई वाली टीम ने फाइनल में चेन्नई सुपर किंग्स  को हराया जीतने वाली गाथा यहीं खत्म नहीं हुई  गंभीर और टीम खिलाड़ियों ने 2014 में अपनी सफलता को फिर से दोहराया उन्होंने दूसरी आईपीएल ट्रॉफी उठाने के लिए किंग्स इलेवन पंजाब को फाइनल में हराया हालांकि, कोलकाता फिर टूर्नामेंट के पिछले पांच संस्करणों में अपनी सफलता को फिर से हासिल करने में विफल रहा है केकेआर, जिसका घरेलू मैदान ईडन गार्डन है, अबतक 181 मैचों में 92 मैच जीत चुकी है.  ये 3 खिलाडी जो इस बार टीम को विजेता बना सकते है.

1. दिनेश कार्तिक

कार्तिक ने पिछले साल श्रीलंका में निदाहस ट्रॉफी में बांग्लादेश के खिलाफ अपनी यादगार पारी के दौरान खुद को एक फिनिशर के रूप में मजबूत किया वह आईपीएल 2018 में अपनी टीम के लिए शीर्ष स्कोरर थे, जहां उन्होंने 49.80 के शानदार औसत से 498 रन बनाए जिसमें दो अर्धशतक शामिल थे.कार्तिक ने अपने आईपीएल करियर में 130.11 के स्ट्राइक रेट से 3651 रन बनाए हैं, जिसमें 18 अर्धशतक शामिल हैं आईपीएल में सबसे अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाजों में से एक, कार्तिक ने 2018 में केकेआर को प्लेऑफ में पहुंचाया 2020 के सीजन में अब भी केकेआर को आशा है कि उसके हाथ में तीसरी आईपीएल ट्रॉफी आए, क्योंकि टीम पिछले 5 सीजन से खिताब हासिल करने से चूकी है ऐसे में फ्रेंचाईजी अभी भी कार्तिक पर पूरा भरोसा बनाए रखेगी. ये 3 खिलाडी 1 बार फिर बना सकते है.

2. आंद्रे रसेल

विंडीज टीम के विस्फोटक ऑलराउंडर आंद्रे रसेल पिछले आईपीएल सीजन में अपने मैच विजेता प्रदर्शन के कारण प्रशंसक बन गए थे अपनी मजबूत ताकत और खतरनाक छक्कों के लिए जाने जाने वाले केकेआर को रसेल को कभी भी टीम से बाहर करने से पहले दो बार सोचना होगा रसेल ने आईपीएल 2019 में 204.81 की शानदार स्ट्राइक रेट से 510 रन बनाए वह नियमित अंतराल पर अहम विकेट लेने की क्षमता भी रखते हैं इस ऑलराउंडर ने पिछले आईपीएल सीजन में 14 मैचों में 11 विकेट लिए थे. ये 3 खिलाडी 1 बार फिर बना सकते है.

3. शुभमन गिल

अपना पहला टेस्ट कॉल-अप अर्जित करने के बाद, शुबमन गिल को भारतीय क्रिकेट में ‘नेक्स्ट बिग थिंग’ के रूप में टैग किया गया इस युवा खिलाड़ी के पास प्रथम श्रेणी का रिकॉर्ड है, जहां उन्होंने 15 मैचों में 69.8 के शानदार औसत से 1535 रन बनाए हैं केकेआर इस 20 वर्षीय खिलाड़ी को आसानी से बाहर नहीं कर सकता क्योंकि इनके पास अभी भी बहुत कुछ सीखने का माैका रहेगा जो राष्ट्रीय टीम में भी सबका फायदा देगा. दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने आईपीएल के पिछले संस्करण में 14 मैचों में 32.88 की औसत से 294 रन जुटाए थे गिल ने 2018 अंडर -19 विश्व कप में अपनी वीरता के बाद प्रसिद्धि पाने के लिए 104.50 की औसत से 418 रन बनाकर नाम कमाया था. ये 3 खिलाडी 1 बार फिर बना सकते है.

क्रिकेट विश्व कप सुपर लीग इंग्लैंड-आयरलैंड श्रृंखला के साथ शुरू होगा …

आईपीएल में सब से ज्यादा शतक लगाने वाले 2 खिलाडी नंबर 2 भारत की शान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *