शाहिद अफरीदी के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद, उसके मरने के दुआ करने लगे भारतीय

शाहिद अफरीदी ने हाल ही में ट्विटर के जरिये बताया है कि उन्हें कोरोना है. जिसके बाद भारतीयों द्वारा उनके मरने की बात की जाने लगी. ऐसा कुछ भी नहीं है कि भारतीय जनता शाहिद अफरीदी से चिढती है बल्कि हाल ही में अफरीदी ने जम्मू घाटी में भारत की जनता से लेकर भारत के प्रधानमंत्री के बारे में बहुत ज्यादा बुरा-भला कहा था. जिसके बाद अफरीदी भारतीय जनता के लिए किसी दुश्मन से कम नहीं नजर आ रहे थे. अब उनकी कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद ट्विटर प्रयोग करने वाले लोगो ने अफरीदी को आड़े हाथ लेना शुरू कर दिया. तो आइये जानते है इसके बारे में.

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने शनिवार को कहा कि “उनका COVID -19 टेस्ट पॉजिटिव आया है.इसके साथ ही कोरोनावायरस से संक्रमित होने वाले पहले हाई-प्रोफाइल क्रिकेटर बन गए है. अफरीदी ने ट्विटर करते हुए लिखा कि, “मैं गुरुवार से अस्वस्थ महसूस कर रहा हूं. मेरा शरीर बुरी तरह से दर्द कर रहा था. मेरा परीक्षण किया गया है और दुर्भाग्य से वह पॉजिटिव निकला. मुझे शीघ्र स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना की जरूरत है.”

शाहिद अफरीदी के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद, उसके मरने के दुआ करने लगे भारतीय

अफरीदी ने 1996 और 2018 के बीच पाकिस्तान के लिए क्रिकेट खेला है, जिसमें 27 टेस्ट (1716 रन और 48 विकेट), 398 वनडे (8064 रन और 395 विकेट) और 99 टी 20 अंतर्राष्ट्रीय (1416 रन और 98 विकेट) शामिल हैं.

शाहिद अफरीदी के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद, उसके मरने के दुआ करने लगे भारतीय

शाहिद अफरीदी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद से ही उनका नाम ट्वीटर से फेसबुक पर ट्रेंड कर कर रहा है. इसके साथ ही शाहिद अफरीदी के ऊपर मीम्स भी बन रहे है. जो भारत में बहुत ज्यादा ट्रेंड कर रहे है. इसके साथ ही कहा जा रहा है कि अगर पाकिस्तान के इतने बड़े सेलेब्रिटी को कोरोना हो सकता है तो वंहा की गरीब जनता का क्या होगा? हम आपकी जानकारी के लिए बता दे कि पकिस्तान में 80% लोग बेहद गरीब है जो हर दिन कमाते-खाते है. कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा असर इसकी वजह से ही वंहा की गरीब जनता को झेलना पड़ेगा.

अनुपम खेर ने शशि थरूर को जमकर लताड़ा, अजय पंडिता की हत्या पर न करे राजनीति

3 लाख पहुंची कोरोना के मरीजो की संख्या, 1 दिन में 300 से ज्यादा मौते दर्ज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *